उद्यान

उपासना मंदिर और उसके अनुषंगी भवन सुंदर उद्यानों और हरे-भरे लॉन से घिरे हुए हैं। इन उद्यानों और लॉनों का रखरखाव पूरी तरह से पुनर्नवीकृत (रीसायकल्ड) जल के प्रयोग से किया जाता है।

पूलसाइड एक्ज़ीविशन

मुख्य भवन के इर्द-गिर्द नौ जलाशय हैं। इनमें फव्वारे लगे हुए हैं जिनका मुख्य उद्देश्य है उपासना मंदिर की शोभा बढ़ाना। इसके अतिरिक्त, ये जलाशय गर्मी के मौसम में प्रार्थना कक्ष के अंदर प्राकृतिक शीतलता बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। उनका और कोई आध्यात्मिक महत्व नहीं है। प्रार्थना कक्ष के नीचे तलघर के पास एक ’पूलसाइड एक्ज़ीबिशन’ (प्रदर्शनी) लगाया जाता है जहां बहाई उपासना मंदिर, बहाई धर्म के सिद्धांतों, एक बेहतर विश्व के निर्माण तथा सामाजिक एवं आर्थिक विकास की नई संरचना की दिशा में बहाइयों द्वारा किए जा रहे प्रयासों, इत्यादि के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त की जा सकती है। यह एक अच्छा हवादार स्थान है जहां लोग जलाशयों के किनारे अपना कुछ समय बिता सकते हैं।

सूचना केंद्र

सूचना केंद्र मंदिर परिसर में, मुख्य प्रार्थना हाल के पथ पर सीधे जाने पर, उपासना मंदिर के ठीक सामने की दिशा में अवस्थित है। यह केंद्र मुख्य रूप से बहाई उपासना मंदिर और बहाई धर्म के बारे में अधिक गहन जानकारी देने के लिए बनाया गया है।

पुस्तकालय

मंदिर संकुल के अनुषंगी प्रखंड में स्थित पुस्तकालय में 111 भाषाओं में 2000 से भी अधिक विविध बहाई साहित्य का संग्रह है। उनमें बहाउल्लाह, बाब, अब्दुल-बहा, शोगी एफेन्दी, और विश्व न्याय मंदिर की चुने हुए लेख इत्यादि भी शामिल हैं। जो आगंतुक ज्यादा सीखने-समझने को इच्छुक हैं उनके लिए यह पुस्तकालय अध्ययन के उपयुक्त शांत वातावरण प्रदान करता है।

Scroll Up